Forgot password?    Sign UP
 भ्रष्टाचार मामले में फीफा ने नेपाल के फुटबॉल प्रमुख पर 10 वर्ष का प्रतिबंध लगाया |

भ्रष्टाचार मामले में फीफा ने नेपाल के फुटबॉल प्रमुख पर 10 वर्ष का प्रतिबंध लगाया |


Advertisement :


0000-00-00 : अंतरराष्ट्रीय फुटबॉल संगठन फीफा ने भ्रष्टाचार के मामले में नेपाल के फुटबॉल प्रमुख गणेश थापा पर 16 नवंबर 2015 को 10 वर्ष का प्रतिबंध लगाया। फीफा ने लाओस महासंघ के अध्यक्ष विफेट सिहाचक्र (Viphet Sihachakr) पर भी रिश्वत के लिए दो वर्ष का प्रतिबंध लगाया। फीफा की नैतिक समिति ने कहा कि थापा को वर्ष 2009 और 2011 में फीफा कार्यकारिणी के चुनाव के लिए विशेष तौर पर रिश्वत दी गई। दस वर्ष के प्रतिबंध के अलावा थापा पर 20,000 स्विस फ्रैंक का जुर्माना भी किया गया।

इससे पहले, एसोसिएटेड प्रेस ने खुलासा किया था कि थापा ने वर्ष 2009 में बिन हम्माम से 100000 अमेरिकी डॉलर अवैध उपहार के रुप में प्राप्त किए थे। यह राशि थापा के बेटे के व्यक्तिगत बैंक खाते में जमा की गई थी। लाओस के फुटबॉल फेडरेशन के प्रमुख विफेट सिहाचक्र को वर्ष 2011 के फीफा कार्यकारिणी के चुनाव के लिए दूसरे फुटबॉल अधिकारी से रिश्वत लेने के लिए दो वर्ष के लिए प्रतिबंधित किया गया और 40,000 स्विस फ्रैंक का जुर्माना किया गया।

Provide Comments :


Advertisement :