Forgot password?    Sign UP
भारत-अफगानिस्तान के मध्य राजनयिकों के लिए वीजा मुक्त यात्रा हेतु समझौता हुआ|

भारत-अफगानिस्तान के मध्य राजनयिकों के लिए वीजा मुक्त यात्रा हेतु समझौता हुआ|





2016-02-02 : हाल ही में, भारत और अफगानिस्तान ने 1 फरवरी 2016 को एक समझौता किया जिसके तहत दोनों देशों के राजनयिक बिना वीज़ा एक-दूसरे देश में यात्रा कर सकते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अब्दुल्ला अब्दुल्ला की मुलाकात के बाद यह समझौता हुआ। मुलाकात के दौरान दोनों नेताओं ने अपनी रणनीतिक साझेदारी गहरी करने के तौर-तरीकों पर चर्चा की। इसमें द्विपक्षीय एवं क्षेत्रीय संदर्भ में रणनीतिक साझेदारी को गहरा करने के तौर-तरीकों पर चर्चा हुई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अफगान सरकार के प्रति गहरा आदर व्यक्त करते हुए कहा कि युद्धग्रस्त देश में भारतीय नागरिकों की रक्षा और एनएसए व अफगान सेनाओं के अदम्य साहस के लिए अफगान सरकार का आभार व्यक्त किया। इसके अतिरिक्त भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने अफगान सीईओ को भारत द्वारा अफगानिस्तान में कार्यरत 92 परियोजनाओं की जानकारी दी।

अफगानिस्तान के मुख्य कार्यकारी अधिकारी :-

# यह पद अफगानिस्तान सरकार के अधीन है।

# यह पद सितंबर 2014 में उस समय बनाया गया था जब वर्ष 2014 के राष्ट्रपति चुनावों के दौरान अशरफ गनी एवं अब्दुल्ला अब्दुल्ला दोनों ने ही अपनी जीत की दावेदारी की थी।

# राष्ट्रीय एकता समझौते के तहत यह निर्धारित किया गया कि अशरफ गनी राष्ट्रपति पद संभालेंगे एवं अब्दुल्ला अब्दुल्ला मुख्य कार्यकारी अधिकारी होंगे।

Provide Comments :




Related Posts :