Forgot password?    Sign UP
विश्व गौरेया दिवस मनाया गया|

विश्व गौरेया दिवस मनाया गया|





2016-03-21 : हाल ही में, 20 मार्च 2016 को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर विश्व गौरेया दिवस मनाया गया, इस दिवस का विषय था, ‘गौरेया की वृद्धि – एक की शक्ति को पहचानें’ (राइज़ फोर द स्पैरो-एक्सपीरियंस द पावर ऑफ़ वन)। इस विषय का उद्देश्य अधिक से अधिक लोगों को गौरेया के साथ मानवीय रिश्ता स्थापित करने के लिए प्रोत्साहित करना था। यह दिवस शहरी वातावरण में घरेलू गौरैया एवं अन्य पक्षियों को हो रहे खतरों के प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए मनाया गया।

गौरेया विश्व में सबसे अधिक पाया जाने वाला पक्षी है तथा मनुष्यों का सबसे पुराना मित्र है। यह दिवस लगभग 50 देशों में मनाया गया जिसमें प्रमुख पक्षीविज्ञान संस्थाओं और संगठनों ने भाग लिया। यह दिवस नेचर फोरेवर सोसाइटी ऑफ़ इंडिया एवं इको-सिस एक्शन फाउंडेशन (फ्रांस) द्वारा आरंभ किया गया। पहला विश्व गौरेया दिवस वर्ष 2010 में मनाया गया। इस दिन विश्व भर के लोग गौरेया से संबंधित मुद्दों पर बातचीत करते हैं एवं उन्हें बचाने तथा सुरक्षा प्रदान करने के लिए मंत्रणा करते हैं। पिछले वर्षों में किये गये उपायों की समीक्षा एवं वर्तमान स्थिति भी इस बैठक में शामिल है।

Provide Comments :




Related Posts :