Forgot password?    Sign UP
महाराष्ट्र सरकार ने 29000 गांवों को सूखाग्रस्त घोषित किया गया|

महाराष्ट्र सरकार ने 29000 गांवों को सूखाग्रस्त घोषित किया गया|





2016-05-13 : हाल ही में, 12 मई 2016 को महाराष्ट्र सरकार ने प्रदेश के 29000 गांवों को सूखाग्रस्त घोषित किया। इनमें अधिकतर मराठवाड़ा एवं विदर्भ क्षेत्र में स्थित हैं। मुंबई से सरकार द्वारा जारी एक सूचना में कहा गया कि अधिसूचना में जहां भी ‘सूखे जैसी स्थिति’ कहा गया है उसका अर्थ सूखा है। यह संदर्भ मुंबई उच्च न्यायालय द्वारा दिए गये एक आश्वासन के तहत जारी किया गया।

राज्य विभिन्न योजनाओं एवं प्रयासों से सूखे की स्थिति से निपटने का प्रयास कर रही है। सरकार द्वारा मराठवाड़ा एवं विदर्भ क्षेत्रों में विशेष योजनाओं पर कार्य किया जा रहा है। जिन गांवों को सूखाग्रस्त घोषित किया गया है वे पहले से ही योजनाओं का लाभ प्राप्त कर रहे थे। बता दे की इससे पहले 7 मई 2016 को देवेन्द्र फडनवीस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात करके 10000 करोड़ रुपये के राहत पैकेज की मांग की थी। इसमें से 7500 करोड़ रुपये अगले तीन वर्षों में मराठवाड़ा एवं विदर्भ क्षेत्रों में सिंचाई योजनाओं पर खर्च किये जायेंगे।

Provide Comments :





Related Posts :