Forgot password?    Sign UP
अमेरिका ने मानवाधिकारों के हनन के लिए उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन पर प्रतिबंध लगाया

अमेरिका ने मानवाधिकारों के हनन के लिए उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन पर प्रतिबंध लगाया





2016-07-08 : अमेरिका के विदेशी संपत्ति नियंत्रण कार्यालय (ओएफएसी) के खजाना विभाग ने 6 जुलाई 2016 को उत्तर कोरियाई शासन के शीर्ष अधिकारियों और नेता किम जोंग उन को मानवाधिकारों के हनन का दोषी पाया। पाठको को बता दे की यह पहली बार है जब अमेरिका मानवाधिकार के उल्लंघन के आधार पर उत्तर कोरिया के नेता पर प्रतिबंध लगा रहा है। दोषी पाए गए लोगों में दस अन्य व्यक्ति और पांच संस्था शामिल हैं। इन्हें उत्तर कोरिया स्वीकृति एवं नीति संवर्धन अधिनियम, 2016 (North Korea Sanctions and Policy Enhancement Act of 2016) के तहत उत्तर कोरिया में मानवाधिकारों के हनन या सेंसरशिप पर रिपोर्ट के निष्कर्ष के आधार पर प्रतिबंधित किया गया है।

ओएफएसी ने इससे पहले तीन व्यक्तियों और तीन संस्थाओं को भी नामित किया था, इन्हें भी देश के विभागीय रिपोर्ट में शामिल किया गया है। दंड स्वरूप इनकी अमेरिका की किसी भी संपत्ति को जब्त कर लिया जाएगा और कोई भी अमेरिकी नागरिक इनके साथ व्यापार नहीं करेगा। उत्तर कोरिया अपने परमाणु गतिविधियों की वजह से पहले से ही व्यापक प्रतिबंध झेल रहा है लेकिन विश्लेषक अमेरिका के इस कदम को देश को अलग– थलग करने के उसके प्रयासों को तेज करने के तौर पर देख रहे हैं।

Provide Comments :





Related Posts :