Forgot password?    Sign UP
47 वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का गोवा में शुभारम्भ हुआ

47 वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव का गोवा में शुभारम्भ हुआ





2016-11-21 : 47 वें भारतीय अंतरराष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) का गोवा में शुभारम्भ किया गया। अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में सचिव अजय मित्तल, गोवा के मुख्य सचिव आर के श्रीवास्तव, महोत्सव के निदेशक सी सेंथिल राजन, मनोरंजन समाज के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अमय अभ्यंकर इत्यादि ने संयुक्त रूप से महोत्सव में दीप प्रज्वलित किया। इस महोत्सव की शुरूआत महान पोलिश लेखक एवं निर्देशक अन्द्रेज वाजदा की फिल्म "ऑफ्टरइमेज" से की गयी। यह फिल्म महान चित्रकार ब्लादिस्लॉव स्ट्रेजिमेंस्की के जीवन पर आधारित है। महोत्सव में 90 देशों की करीब 300 फिल्में दिखाई जाएंगी।

उद्घाटन समारोह में कोरियोग्राफर गणेश आचार्य निर्देशित भारतीय सिनेमा में महिलाओं के योगदान और यात्रा की थीम “महिला के लिए गीत” पर नृत्य के माध्यम से प्रस्तुत की गई। और इस महोत्सव में अंतरराष्ट्रीय जूरी के सदस्य (इवान राहगीर, लैरी स्मिथ, लार्डन जाफरोनोविक, नागेश कुकुनूर और लीला किलानी) और भारतीय पैनोरमा के जूरी सदस्यों नाना पाटेकर, मुकेश खन्ना, मृणाल कुलकर्णी, दिव्या दत्ता, सुधीर मिश्रा, नागेश कुकुनूर, प्रसेनजीत चटर्जी और गौतम घोष आदि अन्य गणमान्य लोगों ने भी भाग लिया।

कोरिया के राजदूत महामहिम चो ह्यून ने आईएफएफआई 2016 में भागीदार देश की तरफ से प्रतिनिधित्व किया। आईएफएफआई 2016 में फिल्म, टीवी एवं ऑडियो-वीडियो संचार के अंतरराष्ट्रीय परिषद (आईसीएफटी), पेरिस तथा यूनेस्को के सहयोग से शांति, सहिष्णुता और अहिंसा के विचारों को प्रस्तुत करने वाली फिल्म को “आईसीएफटी-यूनेस्को गांधी मेडल” से सम्मानित किया जाएगा।

‘यूनेस्को’ और ‘सक्षम’ के सहयोग से 47 वें आईएफएफआई-2016 सुगम्य भारत अभियान के तहत विशेष ऑडियो वर्णित तकनीक के जरिए विशेष रूप से विकलांग बच्चों को तीन फिल्में दिखायेगा। सरकार के स्वच्छ भारत अभियान से प्रभावित होकर आईएफएफआई 2016 स्वच्छ भारत अभियान की थीम पर 20 पुरस्कृत लघु फिल्मों पर एक प्रस्तुति भी पेश करेगी।

47 वें आईएफएफआई 2016 में दुनिया भर के फिल्मों के प्रदर्शन के अलावा वृत्तचित्र फिल्म बनाने, संपादन, कला निर्देशन, सिनेमेटोग्राफी, वीएफएक्स और एनिमेशन तथा एक्शन निर्देशन पर कार्यशालाएं एवं कला क्षेत्र की मशहूर हस्तियों द्वारा बात-चीत भी आयोजित की जायेगी।

Provide Comments :




Related Posts :