Forgot password?    Sign UP
दादा साहब फाल्के पुरस्कार-2014 अभिनेता-फिल्मकार शशि कपूर को प्रदान किया गया |

दादा साहब फाल्के पुरस्कार-2014 अभिनेता-फिल्मकार शशि कपूर को प्रदान किया गया |





0000-00-00 : बॉलीवुड के अभिनेता एवं फिल्मकार शशि कपूर को भारतीय सिनेमा जगत के सबसे बड़े सम्मान दादा साहब फाल्के पुरस्कार-2014 से सम्मानित किया गया है | शशि कपूर को यह पुरस्कार भारतीय सिनेमा में उनके योगदान के लिए दिया गया | तथा शशि कपूर को यह पुरस्कार केंद्रीय सूचना प्रसारण मंत्री अरुण जेटली ने मुंबई के पृथ्वी राज कपूर थिएटर में 10 मई 2015 को प्रदान किया | एवं शशि कपूर नई दिल्ली 3 मई 2015 को हुए पुरस्कार वितरण समारोह में अपनी बीमारी के कारण नहीं आ सके |
शशि कपूर से संबंधित मुख्य तथ्य
(i) भारत सरकार ने शशि कपूर को देश के तीसरे सबसे बड़े नागरिक सम्मान "पद्म भूषण" सम्मान से वर्ष 2011 में सम्मानित किया |
(ii) शशि कपूर ने अपने फिल्म करियर की शुरुआत वर्ष 1948 में बाल कलाकार के तौर पर अपने बड़े भाई राज कपूर की फिल्म "आवारा" से की थी |
(iii) उसके बाद उन्हें वर्ष 1951 में फिल्म "आग" में काम करने का मौका दिया गया |
(iv) शशि कपूर ने दीवार, कभी कभी, नमक हलाल, शान, जब-जब फूल खिले, सत्यम शिवम सुंदरम, त्रिशूल, काला पत्थर, सिलसिला जैसी फिल्मों सहित 116 फिल्मों में अभिनय किया |
(v) शशि कपूर ने जुनून,कल्युग, 36 चौरंगी लेन, विजेता और उत्सव जैसी फिल्मों को प्रोड्यूस भी किया |
(vi) शशि कपूर से पहले उनके पिता पृथ्वीराज कपूर को वर्ष 1971 और भाई राज कपूर को वर्ष 1987 में यह सम्मान मिल चुका है |
(vii) शशि कपूर अपने पिता पृथ्वीराज कपूर और बडे भाई राज कपूर के बाद दादा साहेब फाल्के पुरस्कार पाने वाले अपने परिवार के तीसरे सदस्य हैं |
(viii) शशि कपूर ने 18 मार्च 2015 को अपना 77वां जन्मदिन मनाया है |
(ix) शशि कपूर का वास्तविक नाम बलबीर राज कपूर है |
(x) अपने पांच दशक से अधिक लंबे फिल्मी कैरियर में कपूर ने धार्मिक फिल्मों, रोमांटिक फिल्मों व एक्शन फिल्मों में काम किया |
दादा साहेब फाल्के पुरस्कार के बारे मैं :
इस पुरस्कार का प्रारंम्भ दादा साहेब फाल्के के जन्म शताब्दी वर्ष 1969 से हुआ | तथा दादा साहेब फाल्के पुरस्कार सूचना प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार की ओर से भारतीय सिनेमा में योगदान के लिए दिया जाने वाला एक वार्षिक पुरस्कार है | और इस पुरस्कार के तहत एक स्वर्ण कमल, 10 लाख रुपये का नकद राशि और एक शॉल प्रदान किया जाता है | वर्ष 2012 का दादा साहेब फाल्के पुरस्कार अभिनेता प्राण व वर्ष 2013 का दादा साहेब फाल्के पुरस्कार गीतकार गुलजार को दिया गया |

Provide Comments :





Related Posts :