Forgot password?    Sign UP
धनराज पिल्लै को ‘भारत गौरव’ से सम्मानित किया गया

धनराज पिल्लै को ‘भारत गौरव’ से सम्मानित किया गया





2017-08-02 : हाल ही में, भारतीय हाकी टीम के पूर्व कप्तान धनराज पिल्लै को ईस्ट बंगाल के फुटबाल क्लब के शीर्ष सम्मान “भारत गौरव” से सम्मानित किया गया। यह सम्मान धनराज पिल्लै को एक अगस्त 2017 को क्लब के स्थापना दिवस समारोह के अवसर पर प्रदान किया जाएगा। पाठकों को बता दे की इसके अलावा ईस्ट बंगाल क्लब ने पूर्व भारतीय फुटबालरों सैयद नईमुद्दीन और सुभाष भौमिक को लाइफटाइम अचीवमेंट पुरस्कार के लिए चुना है।

कौन है धनराज पिल्लै?

# धनराज पिल्लै का जन्म 16 जुलाई 1968 को महाराष्ट्र के खड़की में तमिल माता-पिता नागालिन्गम पिल्लै और अन्दालम्मा के चौथे पुत्र के रूप में हुआ।

# धनराज पिल्लै भारत के शीर्ष हाकी खिलाडयिों में शामिल रहे हैं। पूर्व में उन्होंने भारतीय हॉकी टीम की कप्तानी भी की।

# अपने कॅरियर के दौरान उन्होंने चार ओलंपिक खेलों (1992, 1996, 2000 और 2004), चार विश्व कप (1990, 1994, 1998 और 2002), चार चैंपियंस ट्राफी (1995, 1996, 2002 और 2003) और चार एशियाई खेलों (1990, 1994, 1998 और 2002) में में भारत का प्रतिनिधित्व किया।

# वर्तमान में वह भारतीय हॉकी टीम के प्रबंधक और भारतीय हॉकी फेडरेशन की अनौपचारिक (एडहॉक) समिति के सदस्य भी हैं।

# धनराज पिल्लै ने अंतरराष्ट्रीय हॉकी में शुरुआत 1989 में नई दिल्ली में आयोजित एल्विन एशिया कप से की। एल्विन एशिया कप उन्होंने देश का प्रतिनिधित्व किया।

# धनराज की कप्तानी में भारत ने एशियाई खेल (1998) और एशिया कप (2003) में जीत हासिल की। उन्होंने बैंकाक एशियाई खेलों में सर्वाधिक गोल दागे।

# सिडनी में 1994 के विश्व कप के दौरान वर्ल्ड इलेवन में शामिल होने वाले वह एकमात्र भारतीय खिलाड़ी थे।

# वह कई विदेशी क्लबों जैसे दी इंडियन जिमखाना (लंदन), एचसी ल्योन (फ़्रांस), बीएसएन एचसी एंड टेलीकोम मलेशिया एचसी (मलेशिया), अबाहनी लिमिटेड (ढाका) और एचटीसी स्टुटगार्ट किकर्स (जर्मनी) के लिए भी खेल चुके हैं।

Provide Comments :




Related Posts :