Forgot password?    Sign UP
जाने माने हिंदी लेखक दूधनाथ सिंह का निधन

जाने माने हिंदी लेखक दूधनाथ सिंह का निधन





2018-01-12 : हाल ही में, हिंदी साहित्य के वरिष्ठ कथाकार, कवि और आलोचक दूधनाथ सिंह का लंबी बीमारी के बाद 11 जनवरी 2018 को देर रात निधन हो गया है। उन्होंने अपने पैतृक शहर इलाहाबाद में देर रात 12 बजे आखिरी सांस ली। वे 82 वर्ष के थे। लेखक दूधनाथ सिंह लंबे समय से प्रोस्टेट कैंसर से पीड़ित थे। दूधनाथ सिंह उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के सोबंथा गांव के रहने वाले थे। दूधनाथ सिंह के निधन की खबर से साहित्य जगत में शोक की लहर है।

दूधनाथ सिंह के बारे में :-

# दूधनाथ सिंह का जन्म 17 अक्टूबर 1936 को हुआ था।

# दूधनाथ सिंह की गिनती हिन्दी के चोटी के लेखकों और चिंतकों में होती थी।

# निराला, पंत और महादेवी के प्रिय रहे दूधनाथ सिंह ने आखिरी कलाम, लौट आ ओ धार, निराला : आत्महंता आस्था, सपाट चेहरे वाला आदमी, यमगाथा, धर्मक्षेत्रे-कुरुक्षेत्रे जैसी कालजयी कृतियों की रचना की।

# उनके तीन कविता संग्रहों में “एक और भी आदमी है”, “अगली शताब्दी के नाम” और “युवा खुशबू” शामिल हैं।

# इसके अतिरिक्त उन्होंने एक लंबी कविता- “सुरंग से लौटते हुए” भी लिखी है।

Provide Comments :





Related Posts :