Forgot password?    Sign UP
मानव संसाधन विकास मंत्री ने जवाहर नवोदय विद्यालय में 5,000 सीटें बढ़ाने की घोषणा की

मानव संसाधन विकास मंत्री ने जवाहर नवोदय विद्यालय में 5,000 सीटें बढ़ाने की घोषणा की





2019-01-08 : हाल ही में, केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने 07 जनवरी 2019 को शैक्षिक वर्ष 2019-20 से जवाहर नवोदय विद्यालय में 5000 सीटें बढ़ाने की घोषणा की। फिलहाल, प्रतिभावान ग्रामीण बच्चोंक के लिए जवाहर नवोदय विद्यालयों में सीटों की संख्यास 46600 है। जवाहर नवोदय विद्यालयों में 5000 सीटें बढ़ने से शैक्षिक वर्ष 2019-20 से सीटों की उपलब्धटता 51000 हो जाएगी। पिछले चार वर्षों के दौरान जवाहर नवोदय विद्यालयों में 9000 सीटें बढ़ाई गई थीं और 5000 सीटें बढ़ने से 5 वर्षों में सरकार द्वारा जवाहर नवोदय विद्यालयों में बढ़ाई गई सीटों की संख्याा 14000 होगी। सरकार अगले चार वर्षों में 32000 अतिरिक्तय सीटें बढ़ाना चाहती है।

जवाहर नवोदय विद्यालय के बारे में :-

# जवाहर नवोदय विद्यालय पूरी तरह आवासीय विद्यालय हैं और नवोदय विद्यालय समिति इनका संचालन देखती है। यह समिति मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तहत एक स्वायत्त संस्थान है।

# ये विद्यालय पूर्णतः आवासीय एवं निःशुल्क विद्यालय होते हैं जहाँ विद्यार्थियों को नि:शुल्क आवास, भोजन, शिक्षा एवं खेलकूद सामग्री उपलब्ध कराई जाती है। हर जिले में एक नवोदय विद्यालय होता है।

# जवाहर नवोदय विद्यालय प्रणाली को एक अद्वितीय प्रयोग के रूप में शुरू किया गया था। यह भारत में और अन्यषत्र भी, विद्यालय शिक्षा का एक बेजोड़ नमूना है। हजारों की संख्या। में वंचित बच्चों के लिए यह सफलता का एक स्रोत बन गया है।

# पिछले 5 वर्षों में नवोदय विद्यालय ने 10वीं कक्षा और 12वीं कक्षा में 97 प्रतिशत से भी अधिक उत्तीएर्णता प्रतिशत दर्ज की है, जिसमें से 86 प्रतिशत प्रथम श्रेणी से उत्ती र्ण हैं। यह परिणाम निजी स्कूभलों और केंद्रीय माध्यशमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के राष्ट्रीथय औसत से भी काफी बेहतर है।

Provide Comments :




Related Posts :