Forgot password?    Sign UP
स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2019 में इंदौर लगातार तीसरी बार पहले स्थान पर

स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार 2019 में इंदौर लगातार तीसरी बार पहले स्थान पर





2019-03-07 : हाल ही में, राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द ने 06 मार्च 2019 को मध्यप्रदेश के इंदौर शहर को स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार का प्रथम पुरस्कार प्रदान किया। इंदौर को लगातार तीसरे वर्ष यह पुरस्कार प्राप्त हुआ है। इन पुरस्कारों की स्थापना केंद्र सरकार के आवास और शहरी कार्य मंत्रालय की पहल पर की गई है। बता दे की स्वच्छ सर्वेक्षण-2019 के तहत कुल 70 श्रेणियों में पुरस्कार दिए गये। सबसे स्वच्छ शहर के साथ ही स्टार रैकिंग और ज़ीरो वेस्ट मैनेजमेंट का पुरस्कार भी इंदौर को मिला। वहीं, मध्यप्रदेश को कुल 19 पुरस्कार मिले हैं।

स्वच्छ सर्वेक्षण पुरस्कार-2019 के बारे में :-

# इंदौर को जहां भारत का सबसे स्वच्छ शहर घोषित किया गया वहीं भोपाल सबसे स्वच्छ राजधानी चुनी गई।

# इसके अलावा 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में अहमदाबाद और पांच लाख से कम आबादी वाले शहरों में उज्जैन पहले स्थान पर हैं।

# दिल्ली छावनी को भारत की सबसे स्वच्छ छावनी चुना गया।

# स्वच्छ सर्वेक्षण 2019 में भारत के शीर्ष 3 सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शनकारी राज्यों में छत्तीसगढ़, झारखंड और महाराष्ट्र उभरे हैं।

# दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) क्षेत्र को “सबसे साफ छोटा शहर” का पुरस्कार दिया गया।

# उत्तराखंड के गौचर को केंद्र सरकार के सर्वेक्षण में "सर्वश्रेष्ठ गंगा टाउन" घोषित किया गया।

# स्टार रेटिंग में केवल इंदौर, अंबिकापुर और मैसूर को फाइव स्टार रेटिंग मिल सकी जबकि सेवन स्टार रेटिंग किसी शहर को नहीं दी गई क्योंकि शहरी विकास मंत्रालय चाहता है कि स्वच्छता के लिए देश के सभी शहर और काम करें।

Provide Comments :





Related Posts :