Forgot password?    Sign UP
अराता इसोज़ाकी ने जीता प्रित्जकर पुरस्कार-2019

अराता इसोज़ाकी ने जीता प्रित्जकर पुरस्कार-2019





2019-03-08 : हाल ही में, जापानी आर्किटेक्ट अराता इसोजाकी को प्रतिष्ठित प्रित्जकर पुरस्कार-2019 के लिए चयनित किया गया है। पाठकों को बता दे की वे इस पुरस्कार को जीतने वाले 46वें व्यक्ति तथा आठवें जापानी आर्किटेक्ट हैं। उन्हें पुरस्कार स्वरुप एक लाख डॉलर की इनामी राशि तथा एक कांस्य पदक भी प्रदान किया जायेगा। उन्हें यह सम्मान फ्रांस के शैटॉ डी वर्सेल्स में मई में प्रदान किया जायेगा। अराता इसोजाकी ने लॉस एंजलिस में म्यूजियम ऑफ़ कंटेम्पररी आर्ट, बार्सिलोना में पलाऊ सैंट जोर्डी इनडोर स्पोर्टिंग एरीना, इटली के मिलान में एलियांज टावर, क़तर का नेशनल कन्वेंशन सेंटर, जापान में किताक्युशी की सेंट्रल लाइब्रेरी, ग्रीस में M2 तथा जापान में नारा सेंटेनियल हॉल इत्यादि बनाये हैं।

प्रित्जकर पुरस्कार के बारे में :-

# प्रित्जकर प्राइज़ एक वार्षिक पुरस्कार है, यह पुरस्कार आर्किटेक्ट को बेहतरीन कार्य के लिए प्रदान किया जाता है।

# इस पुरस्कार की स्थापना शिकागो के प्रित्जकर परिवार ने 1979 में हयात फाउंडेशन के द्वारा की थी।

# इस पुरस्कार को आर्किटेक्चर का नोबेल प्राइज कहा जाता है।

# इससे पहले भारत के बालकृष्ण दोषी, सिडनी ओपेरा हाउस को डिजाईन करने वाले जोर्न उटज़ोन, ब्राज़ील के ऑस्कर निएमेयेर तथा ब्रिटिश-इराकी डिज़ाइनर जाहा हदीद इस पुरस्कार को जीत चुके हैं।

Provide Comments :





Related Posts :