Forgot password?    Sign UP
नशीले पदार्थों की अवैध तस्करी से निपटने हेतु भारत-इंडोनेशिया समझौते को मंजूरी प्रदान की गयी

नशीले पदार्थों की अवैध तस्करी से निपटने हेतु भारत-इंडोनेशिया समझौते को मंजूरी प्रदान की गयी





2019-03-27 : हाल ही में, PM मोदी की अध्याक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मादक पदार्थों, नशीले पदार्थों की अवैध तस्करी और आवाजाही से निपटने पर भारत और इंडोनेशिया के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ता्क्षर को अपनी मंजूरी दे दी है। इस समझौते से मादक पदार्थों और नशीले पदार्थों के नियमन तथा मादक पदार्थों की तस्कमरी से निपटने के लिए परस्प।र सहयोग में मदद मिलेगी। यह समझौता हस्तामक्षर की तिथि से प्रभावी होगा और 5 वर्ष की अवधि के लिए लागू रहेगा। गौरतलब है कि भारत ने 37 देशों के साथ ऐसी संधियों/सहमति पत्रों/समझौतों पर हस्ताअक्षर किए हैं।

इस समझौते से दोनों देशों के बीच संयुक्ति राष्ट्रह अंतर्राष्ट्री य ड्रग नियंत्रण संधियों के अनुसार मादक पदार्थों और नशीले पदार्थों तथा मादक पदार्थों की तस्क री और इसकी आवाजाही से निपटने में सहयोग बढ़ेगा। और इस सहमति पत्र के तहत सहयोग में मादक पदार्थों, नशीले पदार्थों की अवैध तस्किरी और इसकी आवाजाही से निपटने में दोनों देशों के राष्ट्री य विधान के मौजूदा वैधानिक औजारों पर आधारित विवरण का आदान-प्रदान करना, मादक पदार्थों, नशीले पदार्थों की अवैध तस्किरी और इसकी आवाजाही तथा अनिवार्य रसायनों, धनशोधन (मनी लॉंडरिंग) के काम में शामिल लोगों की पहचान करने की दृष्टि से नियंत्रित वितरण संचालन के इस्तेसमाल में एक दूसरे को अनुमति देना और सहायता देना शामिल हैं।

Provide Comments :





Related Posts :