Forgot password?    Sign UP
मूर्तिदेवी पुरस्कार-2014 हेतु डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी की रचना

मूर्तिदेवी पुरस्कार-2014 हेतु डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी की रचना "व्योमकेश दरवेश" का चयन |





0000-00-00 : वर्ष 2014 के मूर्तिदेवी पुरस्कार के लिए हिन्दी के साहित्य समालोचक डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी की रचना "व्योमकेश दरवेश" को चुना गया है | यह क्रम में 28वां मूर्तिदेवी पुरस्कार है | इसमें डॉ. एम वीरप्पा मोइली की अध्यक्षता में नई दिल्ली में हुई चयन समिति की बैठक में ज्ञानपीठ द्वारा दिए जाने वाले इस पुरस्कार का निर्णय 26 जून 2015 को किया गया | तथा "व्योमकेश दरवेश" हिन्दी के समालोचक आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी के जीवन पर आधारित है | और मूर्तिदेवी पुरस्कार के तहत डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी को चार लाख रुपये नकद, सरस्वती की प्रतिमा और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा |
मूर्तिदेवी पुरस्कार के बारे में :
मूर्तिदेवी पुरस्कार भारतीय ज्ञानपीठ द्वारा प्रतिवर्ष ऐसी रचना के लिए दिया जाता है, जिसमें भारतीय दर्शन और संस्कृति पर ज़ोर दिया गया हो | पुरस्कार-स्वरूप विजेता को 4 लाख रुपये नकद, प्रशस्ति-पत्र, देवी सरस्वती की प्रतिमा और शॉल प्रदान किया जाता है |
डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी के बारे में :
डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी का जन्म उत्तर प्रदेश के बस्ती जिले के विस्कोहर गांव में 16 फरवरी 1931 को हुआ था | तथा उनकी प्रमुख रचनाओं में लोकवादी तुलसीदास, मीरा का काव्य, देश के इस दौर में, कुछ कहानियां : कुछ विचार, जैसा कह सका और नंगातलाई का गांव शामिल है | डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी को व्यास सम्मान, गोकुलचंद्र शुक्ल आलोचना पुरस्कार, डॉ. रामविलास शर्मा सम्मान और सोवियत लैंड नेहरू पुरस्कार से नवाजा जा चुका हैं |

Provide Comments :





Related Posts :