Forgot password?    Sign UP
किवा टायलरी नामक येती केकड़े की प्रथम प्रजाति की खोज की गयी |

किवा टायलरी नामक येती केकड़े की प्रथम प्रजाति की खोज की गयी |



0000-00-00 : डॉक्टर स्वेन थात्जे के नेतृत्व में ब्रिटिश वैज्ञानिकों के एक दल ने अंटार्कटिक क्षेत्र में येती केकड़े की पहली प्रजाति की खोज की है | जिसमे यह सूचना 24 जून 2015 को जर्नल PLOS ONE में प्रकाशित की गयी थी | और गहरे समुद्र और ध्रुवीय जीवविज्ञानी ब्रिटिश प्रोफेसर पॉल टायलर के नाम पर इस प्रजाति का नाम किवा टायलरी रखा गया है |

किवा टायलरी नामक येती केकड़े के बारे में :
यह केकड़ा किवाडेई नामक झींगा मछलियों के एक रहस्यमय समूह के अंतर्गत आता है | जो की यह दक्षिणी महासागर,अंटार्कटिका के पूर्व स्कोटिया तथा कटक के जलतापीय वेंट सिस्टम आदि क्षेत्रों में पाया जाता हैं | इससे पूर्व अंटार्कटिक के पानी में बालों वाला केकड़ा पाया गया था | तब इसका उपनाम अभिनेता डेविड हैसेल हॉफ के नाम पर हॉफ रखा गया था | ये केकड़े अपनी शारीरिक संरंचना के लिए प्रसिद्ध हैं | इनका शरीर पूरी तरह ब्रिस्टल जिसे सिटेट नाम से जाना जाता है आवृत होता है |

Provide Comments :




Related Posts :