Forgot password?    Sign UP
महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध में UP सबसे आगे : NCRB रिपोर्ट

महिलाओं के खिलाफ हो रहे अपराध में UP सबसे आगे : NCRB रिपोर्ट





2019-10-22 : हाल ही में, राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) साल 2017-18 के दौरान भारत में पंजीकृत आपराधिक रिकॉर्ड के आंकड़े जारी किए हैं। एनसीआरबी रिपोर्ट के अनुसार, इस अवधि में देश भर में संज्ञेय अपराध के 50 लाख मामले दर्ज किए गये थे। रिपोर्ट के अनुसार, इस दौरान हत्या के मामलों में 3.6 प्रतिशत की कमी आई है। जबकि अपहरण के मामले 9 प्रतिशत बढ़ गये है। पूरे देश में हुए अपराधों में से सबसे ज्यादा 10.1 प्रतिशत अपराध केवल उत्तर प्रदेश में ही हुए हैं। रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं के खिलाफ अपराध से संबंधित करीब 27.9 प्रतिशत मामले पति या उसके परिजनों की क्रूरता के खिालफ दर्ज किये गये थे। वहीँ महाराष्ट्र 31,979 मामलों के साथ दूसरे स्थान पर तथा पश्चिम बंगाल 30,002 मामलों के साथ तीसरे स्थान पर है।

पाठकों को बता दे की भारत में साल 2016 में 1,06,958 केस दर्ज हुए जो साल 2017 में करीब 28 प्रतिशत बढ़कर 1,29,032 हो गये। इस मामले में, यूपी पहले स्थान पर है, जहां ऐसे मामले साल 2016 की अपेक्षा 19 प्रतिशत ज्यादा दर्ज हुए। यूपी में कुल 19,145 मामले दर्ज किये गये थे। जबकि एमपी में 19,038 मामले, महाराष्ट्र में 16,918 मामले, दिल्ली में 7852 और छत्तीसगढ़ में 6518 मामले दर्ज किये गये।

एनसीआरबी के आंकड़ों के मुताबिक, साल 2017 में हत्या के कुल 28,653 मामले सामने आए। उत्तर प्रदेश में 2016 की तुलना में यह बहुत कम हुआ है, जबकि बिहार में यह आंकड़ा बढ़ा है। हालांकि इसके बावजूद साल 2017 में उत्तर प्रदेश इस मामले में शीर्ष स्थान पर रहा। इसी समय, केंद्र शासित प्रदेशों में हत्या के सबसे अधिक मामले दिल्ली में दर्ज किये गये थे।

आंकड़ों के अनुसार, साल 2017 में भ्रष्टाचार रोकथाम अधिनियम और संबंधित धाराओं में कुल 4062 मामले दर्ज हुए। इनमें सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र में दर्ज किये गये। हालांकि सबसे ज्यादा वृद्धि कर्नाटक में हुई। वहीं सिक्किम अकेला ऐसा राज्य रहा जहां एक भी केस दर्ज नहीं हुआ।

Provide Comments :




Related Posts :