Forgot password?    Sign UP
मिजोरम बना खेलों को उद्योग का दर्जा देने वाला भारत का पहला राज्य

मिजोरम बना खेलों को उद्योग का दर्जा देने वाला भारत का पहला राज्य





2020-05-26 : हाल ही में, मिजोरम मंत्रिमंडल ने 22 मई 2020 को राज्य में खेल क्षेत्र को बढ़ावा देने के लिए खेलों को उद्योग का दर्जा दिया। मंत्रिमंडल की बैठक के बाद राज्य के खेल मंत्री रॉबर्ट रोमाविया रॉयटे ने कहा कि मंत्रिमंडल ने खेल और युवा मामले के विभाग के प्रस्ताव ‘खेल को उद्योग का दर्जा देने’ को मंजूरी दे दी। पाठकों को बता दे की मिजोरम ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य है। खेल मंत्री रॉबर्ट रोमाविया रॉयटे ने इस बात की जानकारी दी और कहा कि इस कदम से राज्य में रोजगार के अवसर पैदा होंगे।

पूर्वोत्तर के आठ राज्यों में से मिजोरम ने देश से खेल जगत में अपनी पहचान बनाई है। मिजोरम ने खासकर फुटबाल में अपनी पहचान बनाई है। राज्य के कई खिलाड़ी देश के अलग-अलग फुटबाल क्लबों में खेल रहे हैं। इस राज्य ने फुटबॉल के अतिरिक्त हॉकी और भारत्तोलन में भी अच्छा किया है। खेल मंत्री रॉबर्ट रोमाविया रॉयटे के अनुसार साल 2010 से राष्ट्रीय स्तर पर यह चर्चा चल रही थी खेल को उद्योग का दर्जा दिया जाए क्योंकि खेल राज्य का मुद्दा है इसमें केंद्र सरकार का सीमित योगदान है। मिजोरम सरकार ने 22 मई 2020 को खेल को उद्योग का दर्जा दिया।

Provide Comments :





Related Posts :