Forgot password?    Sign UP
मेजर सुमन गवनी बनी UN मिलिट्री जेंडर एडवोकेट अवॉर्ड से सम्मानित होने वाली पहली भारतीय

मेजर सुमन गवनी बनी UN मिलिट्री जेंडर एडवोकेट अवॉर्ड से सम्मानित होने वाली पहली भारतीय





2020-05-27 : हाल ही में, हुई घोषणा के अनुसार भारतीय सेना की अधिकारी सुमन गवनी को ‘संयुक्त राष्ट्र (यूएन) सैन्य जेंडर ऐडवोकेट ऑफ द ईयर के अवॉर्ड’ से सम्मानित किया जाएगा। पाठकों को बता दे की ऐसा पहली बार होगा जब किसी भारतीय शांति रक्षक को इस अवॉर्ड से नवाजा जाएगा। सुमन गवनी संयुक्त राष्ट्र मिशन के तहत दक्षिण सूडान में तैनात थीं। हाल ही में उन्होंने अपना मिशन पूरा किया है। भारत के लिए पहली बार और ब्राजील के लिए दूसरी बार यह अवसर है। यह लगातार दूसरा साल है जब ब्राजील के शांतिदूत को यह सम्मान मिला है। ब्राजील सेना की एक कमांडर कर्ला मोंटेइरो डे कास्त्रो अराउजो संयुक्त राष्ट्र के सेंट्रल अफ्रीकन रिपब्लिक में मिशन में काम कर रही हैं।

मेजर सुमन गवनी के बारे में :-

# सुमन गवनी मूल रूप से उत्तराखंड के टिहरी के पोखर गांव की रहने वाली हैं।

# सुमन गवनी की स्कूली शिक्षा उत्तरकाशी और टिहरी में हुई है।

# उन्होंने दून के डीएवी पीजी कालेज से बीएड किया है।

# उन्होंने साल 2010 में भारतीय सेना में बतौर अफसर प्रशिक्षण पूरा किया और साल 2011 में भारतीय सेना में शामिल हुई। और उन्होंने बाद में आर्मी सिंगल कॉर्प्स जॉइन किया।

Provide Comments :





Related Posts :