Forgot password?    Sign UP
Henley Passport Index 2021 : भारत को मिला 85वां स्थान

Henley Passport Index 2021 : भारत को मिला 85वां स्थान





2021-01-13 : हाल ही में, जारी वर्ष 2021 की दुनिया के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट की रैकिंग में भारत को मिला 85वां स्थान मिला है। पाठकों को बता दे की हेनले और पार्टनर्स (Henley Passport Index 2021) की पासपोर्ट इंडेक्स ग्लोबल रैंकिंग के अनुसार, दुनिया में सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट जापान का है, और इसके अलावा, पाकिस्तान इस सूची में नीचे से चौथे स्थान पर है और चीन 70वें स्थान पर काबिज है।

ध्यान दे की जापान के नागरिकों को दुनिया के 191 देशों में ऑन अराइवल वीजा की सुविधा दी जाती है। इसलिए जापान को सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट सूची में पहले स्थान पर रखा है। इसके बाद दूसरे नंबर पर सिंगापुर है, जिसके नागरिकों को 190 देशों में ये सुविधा मिलती है। जबकि तीसरे नंबर पर दक्षिण कोरिया और जर्मनी हैं, जिनके नागरिकों को 189 देशों में वीजा ऑन अराइवल की सुविधा मिलती है। इसके अलावा इटली, फिनलैंड, स्पेन और लक्जमबर्ग चौथे और डेनमार्क और ऑस्ट्रिया पांचवें नंबर पर हैं।



क्या होता है शक्तिशाली पासपोर्ट?



# दुनिया के सबसे शक्तिशाली पासपोर्ट का मतलब होता है उस देश के नागरिकों को बिना वीजा के सफर करने की अनुमति रहती है।

# किसी भी देश के लिए शक्तिशाली पासपोर्ट रैंकिंग इसलिए महत्वपूर्ण होती है, क्योंकि उसी के आधार पर यह तय किया जाता है कि उस देश के नागरिक दुनिया के कितने देशों में बिना वीजा के घूम सकते हैं।

# इसका मतलब यह हुआ कि इस सुविधा के तहत अन्य देश शक्तिशाली पासपोर्ट वाले देश के नागरिकों को ऑन अराइवल की सुविधा प्रदान करते हैं।

Provide Comments :





Related Posts :