Forgot password?    Sign UP
 भारत के प्रधानमंत्री

भारत के प्रधानमंत्री "नरेंद्र मोदी" ने आयरलैंड का दौरा किया |





0000-00-00 : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 23 सितंबर 2015 को आयरलैंड का दौरा किया। वे पिछले 59 वर्षों में आयरलैंड की यात्रा पर जाने वाले पहले भारतीय प्रधानमंत्री हैं। आपको बता दे की इससे पहले जवाहर लाल नेहरु वर्ष 1956 में आयरलैंड गये थे। यात्रा के दौरान मोदी ने आयरलैंड के प्रधानमंत्री एंडा केनी से मुलाकात की जिन्होंने मोदी के सम्मान में भोज का आयोजन किया।

आयरलैंड दौरे के दौरान मोदी ने भारतीय राष्ट्रीय अभिलेखागार में मौजूद कुछ चुनिंदा पांडुलिपियों की प्रतियां प्रधानमंत्री एंडा केनी को सौंपीं। इन प्रतियों में दो आयरिश अधिकारियों थॉमस ओल्डहम (1816-1878) एवं सर जॉर्ज ग्रिअरसन (1851-1941) से संबंधित जानकारी मौजूद है।

मोदी की आयरलैंड यात्रा के महत्वपूर्ण तथ्य इस प्रकार है :-

#दोनों देशों ने आपसी साझेदारी और सहयोग पर सहमति दर्ज की।

# दोनों देशों ने डिजिटल वर्ल्ड में साझेदारी के प्रति सहमति दर्ज की तथा सूचना प्रोद्योगिकी में संयुक्त कार्य समूह बनाने पर भी सहमति दर्ज की।

# दोनों देशों के बीच पेशेवरों की सहायता हेतु सामाजिक सुरक्षा समझौते के लिए भी इच्छा व्यक्त की गयी।

# दोनों देशों ने सीधी हवाई यात्रा आरम्भ करने पर सहमति व्यक्त की। इस निर्णय से दोनों देशों के बीच पर्यटन व्यापार को बढ़ावा मिलेगा। अभी यह व्यापार दोनों देशों के बीच 14 प्रतिशत प्रति वर्ष की दर से वृद्धि कर रहा है।

# भारत ने संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सुधारों के लिए एक निश्चित समय सीमा के भीतर आयरलैंड के समर्थन की मांग की। इसमें संयुक्त राष्ट्र के 70वें वर्ष में अंतर-सरकारी वार्ता के सफल समापन को विशेष रूप से शामिल किया गया है। भारत ने आयरलैंड द्वारा सुरक्षा परिषद में स्थायी सदस्यता हेतु सहयोग की मांग भी की।

# भारत ने एनएसजी एवं अन्य अंतरराष्ट्रीय निर्यात नियंत्रण व्यवस्थाओं में सदस्यता हेतु आयरलैंड द्वारा सहयोग की मांग भी की।

# भारत और आयरलैंड का औपनिवेशिक इतिहास मिलता जुलता है। भारतीय संविधान के निर्देशक सिद्धांतों को आयरिश संविधान से लिया गया है। भारत के जियोलाजिकल सर्वे ऑफ़ इंडिया एवं भारत का पहला लिंगविस्टिक सर्वे ऑफ़ इंडिया आयरिश विशेषज्ञों की सहायता से स्थापित किये गये संस्थान हैं।

Provide Comments :





Related Posts :