Forgot password?    Sign UP
 विदेशी जासूसों के बारे में खबर देने के लिए चीन ने Hotline शुरू की |

विदेशी जासूसों के बारे में खबर देने के लिए चीन ने Hotline शुरू की |





0000-00-00 : चीन के पूर्वोत्तर जिलिन प्रांत में सुरक्षा अधिकारियों ने 2 नवम्बर 2015 को जासूसी रोधी सार्वजनिक हॉटलाइन की शुरूआत की है ताकि संदिग्ध विदेशी जासूसों के बारे में खबर दी जा सके। यह कदम चार जापानी नागरिकों को जासूसी के आरोप में गिरफ्तार किए जाने के बाद उठाया गया है। हॉटलाइन में विदेशी संगठनों और लोगों को लक्षित किया जाएगा जो या तो जासूसी करते हैं या फिर दूसरे लोगों को जासूसी करने के लिए उकसाते हैं या उन्हें प्रायोजित करते हैं। जिलिन में कई सैन्य प्रतिष्ठान हैं और यह पूर्वी चीन सागर के तट पर स्थित तटीय प्रांत है। इसकी समुद्री सीमा जापान से लगती हुई है जिसके साथ चीन का निर्जन प्रायद्वीपों को लेकर विवाद चल रहा है।

चीन की राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए जिलिन प्रांत महत्वपूर्ण है क्योंकि पूर्वोत्तर क्षेत्र औद्योगिक और सैन्य अड्डा है। हॉटलाइन से स्थानीय सरकार को जासूसी से निपटने में सहयोग मिलेगा। विदित हो सितम्बर और अक्टूबर में चार जापानी जासूसों को गिरफ्तार किया गया। स्थानीय मीडिया ने खबर दी कि इनमें एक पुरूष जासूस था जो एक सैन्य प्रतिष्ठान के नजदीक कथित रूप से जासूसी गतिविधियां चला रहा था। एक अन्य प्रांत हेनान ने भी जुलाई में इसी तरह की सुविधा शुरू की थी जिसमें दस से ज्यादा जासूसी गतिविधियों का भंडाफोड़ करने में मदद मिली थी। पिछले कुछ वषरें में चीन के खिलाफ जासूसी की गतिविधियां काफी बढ़ी हैं। जासूसी से न केवल सैन्य मामले लीक हो रहे थे बल्कि आर्थिक और राजनीतिक रूप से भी निशाना बनाया जा रहा था।

Provide Comments :




Related Posts :