Forgot password?    Sign UP
तेलंगाना बना लैंगिक शिक्षा को स्नातक स्तर पर अनिवार्य करने वाला भारत का पहला राज्य|

तेलंगाना बना लैंगिक शिक्षा को स्नातक स्तर पर अनिवार्य करने वाला भारत का पहला राज्य|





2016-01-12 : वर्ष 2016 के जनवरी माह में तेलंगाना देश का पहला ऐसा राज्य बन गया जिसने स्नातक स्तर पर लैंगिक शिक्षा को अनिवार्य कर दिया। इस संबंध में राज्य सरकार ने ‘टूवार्डस अ वर्ल्ड्स ऑफ़ इक्वल्स” नामक एक द्विभाषी पाठ्यपुस्तक जारी की है। इस पुस्तक को वर्तमान में जवाहरलाल नेहरू टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी (जेएनटीयू) ,हैदराबाद से मान्यता प्राप्त इंजीनियरिंग कॉलेजों में प्रायोगिक आधार पर शुरू किया गया है।

पुस्तक के बारे में :-

# पुस्तक में महिला केंद्रित इतिहास और स्त्री-पुरुष संबंधों जैसे जटिल विषयों पर भी ध्यान केन्द्रित किया गया है।

# पुस्तक में विश्व में महिलाओं द्वारा किए गए आंदोलनों जैसे एफ्रो-अमेरिकन आन्दोलन, कैरिबियन आन्दोलन, अफ्रीकी आन्दोलन, दलित और अल्पसंख्यक महिलाओं के राजनीतिक आंदोलनों को स्थान दिया गया है।

# इसके अतरिक्त पुस्तक के साथ विजुअल टूल जैसे डॉक्युमेंट्री फिल्म आदि भी दिए गए हैं।

# इस पुस्तक की सामग्री और पाठ्यक्रम का निर्धारण के 9 सदस्यीय महिला पैनल ने किया है। यह पैनल अब तक 50 से 60 शिक्षकों को प्रशिक्षित कर चुका है।

# इस पुस्तक के प्रथम पाठ में समाजीकरण को शामिल किया गया है।

# इस पुस्तक का पप्रकाशन तेलुगु अकादमी द्वारा किया गया है।

Provide Comments :





Related Posts :