Forgot password?    Sign UP
भारत तथा रूस के बीच प्रतियोगी शोध परियोजनाओं पर समझौता हुआ|

भारत तथा रूस के बीच प्रतियोगी शोध परियोजनाओं पर समझौता हुआ|





2016-01-27 : हाल ही में, 27 जनवरी 2016 को भारत और रूस के बीच आधारभूत और अन्वेषण विज्ञान के क्षेत्र में प्रतियोगी शोध परियोजनाओं को संयुक्त रूप से लागू करने के लिए भारत और रूस के बीच हुई संधि से आज केंद्रीय कैबिनेट को ‘‘अवगत’’ कराया गया। आपको बता दे की पिछले वर्ष मई में हुआ समझौता छह वर्ष के लिए वैध है और विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) और रशियन साइंस फेडरेशन (आरएसएफ) के बीच आपसी सहमति से इसे बढ़ाया जा सकता है। प्रतियोगिता का आयोजन गणित, कम्प्यूटर एंड सिस्टम साइंस, भौतिकी और अंतरिक्ष विज्ञान, रसायन और मैटेरियल साइंस, जीवविज्ञान, दवा के लिए मूल शोध, कृषि विज्ञान, पृथ्वी विज्ञान और इंजीनियरिंग विज्ञान के क्षेत्र में होगा। कैबिनेट की बैठक के बाद एक आधिकारिक बयान में बताया गया कि शोध परियोजना के धन का निर्णय संयुक्त रूप से डीएसटी और आरएसएफ द्वारा लिया जाएगा।

Provide Comments :





Related Posts :