Forgot password?    Sign UP
निदा फाजली ‘मरणोपरांत मौलाना अबुल कलाम आजाद’ पुरस्कार के लिए चुने गये|

निदा फाजली ‘मरणोपरांत मौलाना अबुल कलाम आजाद’ पुरस्कार के लिए चुने गये|





2016-03-28 : हाल ही में,, उत्तर प्रदेश उर्दू अकादमी ने 26 मार्च 2016 को वर्ष 2015 के पुरस्कारों की घोषणा की गयी। जिसमे निदा फाजली को मरणोपरांत मौलाना अबुल कलाम आजाद पुरस्कार के लिए चुना गया। इसके तहत पांच लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी। पुरस्कारों की घोषणा उर्दू अकादमी के चेयरमैन डॉ. नवाज देवबंदी ने की। औउर इसके अलावा उर्दू की सेवा के लिए विभिन्न श्रेणियों में 166 लोगों को पुरस्कार दिया जाएगा। यूपी और उत्तराखंड के पूर्व गनर्वर अजीज कुरैशी को अमीर खुसरो पुरस्कार के लिए चयनित किया गया। अमीर खुसरो पुरस्कार के तहत 1.5 लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी।

एवं इसके अलावा 5 लोगों को लाइफ टाइम अचीवमेंट पुरस्कार से सम्मानित किया जाएगा। इनमें शायरी के लिए अजमल सुलतानपुरी, फिक्शन के लिए लखनऊ की मसरूर जहां, शोध एवं समालोचना के लिए लखनऊ के सैयद फजले इमाम रिजवी, बाल साहित्य के लिए माहनामा नूर-रामपुर और हास्य व्यंग्य के लिए मंजूर उस्मानी शामिल है। इन पुरस्कारों के तहत प्रत्येक विजेता को एक-एक लाख रुपये प्रदान की जाएगी।

डॉ. सुगरा मेहदी राष्ट्रीय एकता पुरस्कार के लिए दिल्ली के प्रो। अख्तरूल वासे और अलीगढ़ के डॉ। सगीर अफराहीम को चुना गया। इन पुरस्कारों के तहत प्रत्येक को एक-एक लाख रुपये की राशि प्रदान की जाएगी। एक लाख रुपये के प्रेमचंद्र पुरस्कार के लिए इलाहाबाद के अली अहमद फातिमी का नाम घोषित किया गया। प्रकाशक पुरस्कार (25 हजार रुपये) दिल्ली के अरशिया पब्लिकेशन को दिया जाएगा। पुस्तकों पर 20 हजार का पुरस्कार पाने वाले आठ लोगों में दिल्ली के अंजुम उस्मानी, ख्वाजा अब्दुल और जम्मू के प्रो. कुददूस जावेद शामिल हैं।

Provide Comments :





Related Posts :