Forgot password?    Sign UP
यूआर राव बने IAFS हॉल ऑफ़ फेम पुरस्कार हेतु चयनित प्रथम भारतीय|

यूआर राव बने IAFS हॉल ऑफ़ फेम पुरस्कार हेतु चयनित प्रथम भारतीय|





2016-05-18 : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अंतरिक्ष वैज्ञानिक उडुपी रामचंद्र राव, लोकप्रिय नाम यू आर राव का इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉटिकल फेडरेशन (आईएएफ) हॉल ऑफ़ फेम पुरस्कार 2016 से सम्मानित करने की घोषणा की। उनके उत्कृष्ट योगदान के कारण इसरो द्वारा यह घोषणा 14 मई 2016 को की गयी। राव ने भारतीय वायुसेना की गतिविधियों के ढांचे के भीतर एस्ट्रोनॉटिक्स की प्रगति के लिए उत्कृष्ट योगदान किया। 30 सितम्बर 2016 को मेक्सिको के गुअदालजारा में आयोजित 67 वें इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉटिकल कांग्रेस सम्मलेन में उन्हें प्रमाण पत्र प्रदान किया जाएगा।

यूआर राव भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के पूर्व अध्यक्ष हैं। वर्तमान में, वह अहमदाबाद में भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला की शासी परिषद के अध्यक्ष हैं। वह तिरूवनंतपुरम में अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी के लिए भारतीय संस्थान (आईआईएसटी) के चांसलर भी है। 1976 में भारत सरकार द्वारा उन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया गया । वाशिंगटन में सोसायटी ऑफ़ सैटेलाइट प्रोफेशनल्स इंटरनेशनल द्वारा 19 मार्च, 2013 को आयोजित समारोह में उन्हें सैटेलाइट हॉल ऑफ़ फेम में शामिल किया गया। इसके साथ ही वह इसमे शामिल होने वाले प्रथम भारतीय बन गए।

अंतरराष्ट्रीय एस्ट्रोनॉटिकल फेडरेशन के बारे में :-

# इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉटिकल फेडरेशन एक अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष एडवोकेसी पेरिस आधारित संगठन है।

# विश्व भर के वैज्ञानिकों के बीच संवाद स्थापित करने हेतु यह गैर सरकारी संगठन 1951 में स्थापित किया गया।

# दुनिया भर में 66 देशों से 300 से अधिक इसके सदस्य हैं।

# भारतीय वायु सेना के हॉल ऑफ़ फेम में सम्मानित व्यक्तित्व, एक प्रशस्ति पत्र, जीवनी जानकारी और भारतीय वायुसेना के वेबसाइट पर एक तस्वीर की एक स्थायी गैलरी हैं।

Provide Comments :




Related Posts :