Forgot password?    Sign UP
संपूर्ण भारत में 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया गया |

संपूर्ण भारत में 21 मई को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया गया |



0000-00-00 : भारत भर में 21 मई 2015 को आतंकवाद विरोधी दिवस मनाया गया तथा इसी दिन यानी 21 मई 1991 को देश के 7वें प्रधानमंत्री राजीव गांधी की तमिलनाडु के श्रीपेरुंबुदूर में लिट्टे के एक मानव बम द्वारा हत्या कर दी गई थी | वह उस समय चुनाव प्रचार के लिए श्रीपेरुंबुदूर में एक आमसभा को संबोधित करने वाले थे | तभी से राजीव गांधी के सम्मान और उनको श्रद्धांजलि देने के लिए आज का दिन आतंकवाद विरोधी दिवस के तौर पर मनाया जाता है | और आतंकवाद विरोधी दिवस मनाने का उद्देश्य राष्ट्रीय हितों पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभावों, आतंकवाद के कारण आम जनता को हो रही परेशानियों, आतंकी हिंसा से दूर रखना है |
इस दिन भारत के पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 24वीं पुण्यतिथि भी मनाई गई | यह दिन देश के सभी वर्गों के लोगों के बीच आतंकवाद और हिंसा के प्रति जागरूकता फैलाने और उसका लोगों, समाज और देश पर पड़ने वाले प्रभाव के बारे में बताने के लिए मनाया जाता है |

Provide Comments :




Related Posts :