Forgot password?    Sign UP
गोपालकृष्ण गांधी को वर्ष 2018 के राजीव गांधी सदभावना पुरस्कार के लिए चुना गया

गोपालकृष्ण गांधी को वर्ष 2018 के राजीव गांधी सदभावना पुरस्कार के लिए चुना गया





2018-08-01 : हाल ही में, गोपालकृष्ण गांधी को वर्ष 2018 के राजीव गांधी सदभावना पुरस्कार के लिए चुना गया है। वे पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल हैं, उन्हें सदभाव एवं शांति को बढ़ावा देने के मामले में इस पुरस्कार के लिए चुना गया है। राजीव गांधी राष्ट्रीय सदभावना पुरस्कार की सलाहकार समिति ने अपनी बैठक में फैसला किया कि 24वां राजीव गांधी राष्ट्रीय सदभावना पुरस्कार गोपालकृष्ण गांधी को सांप्रदायिक सदभाव, शांति और भाइचारे के संवर्धन में उनके उल्लेखनीय योगदान को लेकर दिया जायेगा। गोपालकृष्ण गांधी को यह पुरस्कार नई दिल्ली में 20 अगस्त को एक विशेष कार्यक्रम में प्रदान किया जाएगा।

राजीव गांधी सदभावना पुरस्कार के बारे में :-

# इस पुरस्कार के तहत एक प्रशस्ति पत्र और 10 लाख रुपये नकद दिए जाते हैं।

# यह पुरस्कार पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की जयंती के मौके पर दिया जाता है।

# इसे शांति, सांप्रदायिक सदभाव के संवर्धन और हिंसा के खिलाफ लड़ाई में उनके दीर्घकालिक योगदान की याद में शुरू किया गया था।

# इससे पहले यह पुरस्कार मदर टेरेसा, उस्ताद बिस्मिल्लाह खां, मोहम्मद युनुस, लता मंगेशकर, सुनील दत्त, दिलीप कुमार, कपिला वात्सायन, तीस्ता सीतलवाड़, स्वामी अग्निवेश, केआर नारायणन, उस्ताद अमजद अली खान, मुजफ्फर अली और शुभा मुदगल को मिल चुका है।

Provide Comments :





Related Posts :