Forgot password?    Sign UP
भारत और अमेरिका के बीच ‘वज्र प्रहार’ नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास  आयोजित हुआ

भारत और अमेरिका के बीच ‘वज्र प्रहार’ नामक संयुक्त सैन्य अभ्यास आयोजित हुआ





2018-11-21 : हाल ही में, भारत व अमेरिका की सेना के संयुक्त युद्धाभ्यास “वज्र प्रहार-2018 का 19 नवम्बर 2018 को आरंभ हुआ। यह युद्धाभ्यास 2 दिसम्बर 2018 तक चलेगा। गौरतलब है कि एशिया की सबसे बड़ी व सेना की दक्षिण-पश्चिमी कमान द्वारा विश्व स्तरीय ट्रेनिंग नोड के रूप में स्थापित की गई महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में भारत व अमेरिका की सेना संयुक्त युद्धाभ्यास कर रही है। एशिया की सबसे बड़ी व सेना की दक्षिण-पश्चिमी कमान द्वारा विश्व स्तरीय ट्रेनिंग नोड के रूप में स्थापित की गई महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में एक बार फिर भारत व अमेरिका की सेना संयुक्त युद्धाभ्यास कर रही है।

‘वज्र प्रहार’ के बारे में मुख्य बातें....

# इस युद्ध अभ्यास में अमेरिकी सेना का प्रतिनिधित्व अमेरिकी प्रशांत कमांड के स्पेशल फोर्सेज ग्रुप द्वारा किया जा रहा है।

# इस अभ्यास में 12 दिन तक अर्धमरुस्थलीय तथा ग्रामीण परिवेश में प्रशिक्षण दिया जायेगा।

# इससे दोनों देशों की सेनाओं के बीच इंटर-ओपेराबिलिटी और सैन्य सहयोग में वृद्धि होगी।

# इस अभ्यास दोनों देशों की सेनाएं बंधकों को छुड़ाने, मरुस्थलीय परिस्थिति में स्वयं को ढालने तथा कॉम्बैट फायरिंग का भ्यास करेंगी।

# प्रशिक्षण की समाप्ति के बाद तीन दिवसीय आउटडोर अभ्यास का आयोजन किया जायेगा।

# ‘वज्र प्रहार’ भारत-अमेरिकी विशेष बल का एक संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास है, जो दोनों देशों में बारी-बारी से आयोजित किया जाता है।

# इसमें भारतीय सेना के दक्षिणी कमान पुणे की विशेष बल टीम के 45 सदस्यों ने अमेरिकी सैनिकों के साथ अभ्यास किया।

# इस संयुक्त सैन्य अभ्यास का आयोजन वर्ष 2010 से किया जा रहा है।

Provide Comments :





Related Posts :