Forgot password?    Sign UP
इंजेती श्रीनिवास बने अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) के पहले चेयरमैन

इंजेती श्रीनिवास बने अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र प्राधिकरण (IFSCA) के पहले चेयरमैन





2020-07-07 : हाल ही में, इनजेती श्रीनिवास को इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज सेंटर्स ऑथॉरिटी (International Financial Services Centers Authority- IFSCA) का चेयरमैन नियुक्त किया गया है। आधिकारिक आदेश के मुताबिक, वो तीन साल तक इस पद पर अपनी सेवा देंगे। पाठकों को बता दे की श्रीनिवास ओडिशा कैडर के 1983 बैच के आइएएस अधिकारी हैं, वो पहले कॉर्पोरेट मामलों का मंत्रालय मे अपनी सेवा दे चुके हैं। 31 मई को वो कॉर्पोरेट अफेयर्स सेक्रेटर के पद से रिटायर हुए हैं।

इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज सेंटर्स ऑथॉरिटी (IFSCA) के बारे में :-

# 27 अप्रैल 2020 को इंटरनेशनल फाइनेंशियल सर्विसेज सेंटर्स ऑथॉरिटी (IFSCA) का निर्माण किया गया था।

# यह देश में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों (IFSCs) में सभी वित्तीय सेवाओं को विनियमित करने के लिए एक एकीकृत निकाय है।

# अब तक, IFSCs पर संस्थाओं और वित्तीय सेवाओं के नियम बैंकिंग, पूंजी बाजार और बीमा नियामकों जैसे भारतीय रिजर्व बैंक (RBI), भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (Sebi) और बीमा नियामक और विकास प्राधिकरण (Irdai) द्वारा नियंत्रित किए जाते थे।

# दिसंबर 2019 में, संसद ने देश में IFSCs पर सभी वित्तीय गतिविधियों को विनियमित करने के लिए एक एकीकृत प्राधिकरण स्थापित करने के लिए एक विधेयक पारित किया था।

# भारत में पहला IFSC गुजरात के गांधीनगर में गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस Tec-City (GIFT) में स्थापित किया गया है।

# गुजरात-मुख्यालय IFSCA गांधीनगर में अंतरराष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्रों (IFSCs) में सभी वित्तीय सेवाओं को विनियमित करेगा।

Provide Comments :





Related Posts :