Forgot password?    Sign UP
 कैरोलीन बनीं साल की सवश्रेष्ठ महिला बैडमिंटन खिलाड़ी |

कैरोलीन बनीं साल की सवश्रेष्ठ महिला बैडमिंटन खिलाड़ी |





2015-12-09 : भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी सायना नेहवाल 07 दिसम्बर 2015 को इतिहास रचने से चूक गईं। उन्हें ऑल इंग्लैंड ओपन बैडमिंटन चैम्पियनशिप के महिला एकल वर्ग के खिताबी मुकाबले में स्पेन की कैरोलीन मरीन से हार का सामना करना पड़ा। हालाँकि मुकाबले के आरम्भ में उन्होंने अच्छी शुरुआत की थी। कैरोलीन मरीन ने इस वर्ष पांच सुपर सिरीज हिताब जीते हैं। इस खिताबी दौड़ में उन्होंने चीन की जाओ युन्लेंद, भारत की सायना नेहवाल और चीन की बाओ यिजिन को मात दी। मरीन ने सायना को एक घंटे दो मिनट में 16-21, 21-14, 21-7 से हराकर महिला एकल खिताब जीता।

किसी वर्ल्ड सुपरसीरीज प्रीमियर टूर्नामेंट के फाइनल में पहली बार पहुंची विश्व की तीसरी खिलाडी सायना ने मैच में शानदार आगाज किया और पहले गेम में 11-6 की बढ़त बनाई और अंत मैच से उनकी पकड़ ढीली होती गयी। कैरोलीन मरीन इसे जीतने में सफल रहीं। मरीन ने अपने करियर में पहली बार सायना को हराया है। इससे पूर्व तीन मौकों पर उन्हें सायना से हार का सामना करना पड़ा। पूर्व में केवल दो भारतीय खिलाड़ी पुलेला गोपीचंद (2011) और प्रकाश पादुकोण (1980) ही ऑल इंग्लैंड ओपन का खिताब जीतने में सफल रहे हैं।

Provide Comments :




Related Posts :