Forgot password?    Sign UP
प्रशिद मराठी रंगमंच अभिनेता भालचंद्र पेंधरकर का निधन हुआ |

प्रशिद मराठी रंगमंच अभिनेता भालचंद्र पेंधरकर का निधन हुआ |





0000-00-00 : प्रशिद मराठी रंगमंच अभिनेता, गायक और नाटक निर्माता भालचंद्र पेंधरकर का मुंबई के एक निजी अस्पताल में 11 अगस्त 2015 को 94 वर्ष की आयु में निधन हो गया | पाठको को बता दे की भालचंद्र का जन्म आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में 25 नवंबर 1921 को हुआ था | और भालचंद्र को अन्ना के नाम से भी जाना जाता था | तथा वे नाटक ‘‘दुरीतांचे तिमिर जावो’’ में अभिनय के कारण लोकप्रिय हुए | भालचंद्र ने पंडितराव जगन्नाथ, गीता गत्ती ज्ञानेश्वर, शाबाश बीरबल शाबाश आदि नाटकों के माध्यम से मराठी रंगमंच के विकास में योगदान दिया गया | भालचंद्र पेंधरकर ने ललितकलादर्श नाटक मंडली को मजबूत बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जो केशवराव भोसले द्वारा वर्ष 1908 में स्थापित किया गया था |

बहुमुखी थिएटर व्यक्तित्व भालचंद्र को कई सम्मान और पुरस्कारों से सम्मानित किया गया, उनमें से कुछ निम्नलिखित हैं :-
# वर्ष 1973 में विष्णुदास भावे पुरस्कार |
# वर्ष 1983 में बाल गंधर्व पुरस्कार |
# वर्ष 1990 में केशवराव भोसले पुरस्कार |
# वर्ष 2004 में संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार |
# वर्ष 2006 में प्रभाकर पंशीकर जीवन-गौरव पुरस्कार |

Provide Comments :




Related Posts :